Nine Planets Remedies

ग्रह शांति के लिए लोग अनेकानेक उपाय करते है। कुंडली में ग्रहों एवं भावों से इसका सीधा संबंध है। ज्योतिष शास्त्र में कुंडली के १२ भाव, ९ ग्रहों तथा २७ नक्षत्रों को मान्यता दी गई है।

शनि गृह की शांति का अचूक उपाय
हर शनिवार एक काले रुमाल में १ मुठी उड़द की दाल, कुशा व सरसो के बीज बाँध ले , अपने ऊपर से उतार कर पीपल के पेड़ के नीचे रख दे ।
इस पोटली को वहा रखने के बाद १० मिनट के लिए रुके । अगर हो सके तो शनि मंत्र का मन ही मन में जाप करे । ऐसा कम से काम 7 शनिवार करे ।

सूर्य की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • बहते जल में 250 ग्राम गुड बहाये
  • सूर्य यन्त्र धारण करे
  • सूर्य को 100 दिन अर्ध्य प्रदान करे
  • 43 दिन पिता के चरण स्पर्श करे
  • एक नारियल व आठ बादाम ११ रविवार धार्मिक स्थल पर दान करे

 

चन्द्र की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • कच्चा दूध रविवार रात सिरहाने रखे । सोमवार को कीकर की जड़ में डाले
  • चन्द्र यन्त्र धारण करे
  • चन्द्र ग्रहण के समय सफ़ेद चावलों का दान करे
  • 43 दिन पिता के चरण स्पर्श करे
  • सोमवार को मीठा डाल कल दूध ना पीये

 

मंगल की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • मंगलवार को मंगल की वस्तुओं का दान करे परन्तु किसी से दान अथवा भेट ना ले
  • मंगलवार को हनुमान जी को सिंदूर भेंट करे
  • ताम्बे के लोटे में रखा जल वट वृक्ष को चढ़ाये
  • २१ मंगलवार तक बंदरो को गुड व् चने खिलाये
  • मंगलवार को २५० ग्राम बतासे बहते पानी में डाले

 

बुध की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • बुध यन्त्र धारण करे
  • हरे वस्त्र बुधवार को दान करे
  • हरी वस्तु/वस्त्र कम से कम प्रयोग करे
  • २७ मूंगे के दाने, कांसे का टुकड़ा, हरे रंग के कपडे में बाँध कर बुधवार को नदी में प्रवाहित करे
  • बुधवार को हिजड़ो को हरी चुडिया दान करे
  • ताम्बे का छेद वाला सिक्का जल में डाले

 

बृहस्पति की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • बृहस्पति यन्त्र धारण करे
  • वीरवार को बुजुर्ग ब्राह्मण को लड्डू दान करे
  • वीरवार को चने की दाल, हल्दी की गाँठ, केसर, पीपल के पत्ते, पीले फूल पीले कपडे में बाँध कर नदी में प्रवाहित करे
  • २७ मूंगे के दाने, कांसे का टुकड़ा, हरे रंग के कपडे में बाँध कर बुधवार को नदी में प्रवाहित करे
  • १६ वीरवार घोड़े को चने की दाल खिलाये
  • स्वर्ण कम से कम पहने
  • सदाचारी बने रहे
  • सफ़ेद चन्दन घिस कर हल्दी मिलकर तिलक करे
  • वीरवार को किसी मंदिर में चने की दाल का दान करे । इस उपाय को ६ बार करे

 

शुक्र की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • शुक्र यन्त्र चांदी पर खुदवाकर चमेली के पोधे के नीचे दबा दे
  • पांच शुक्रवॉर खीर बनाने का सामान किसी मंदिर में दान करे
  • तुलसी का एक पौधा मंदिर में शुक्रवॉर वाले दिन मंदिर में रोपित करे
  • शुक्रवॉर का वर्त रखे
  • ७ शुक्रवार काली चीटीँयो को चीनी डाला करे
  • दूध देने वाली किसी गाय को चारा खिलाये

 

शनि की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • लोहे की कटोरी में तेल डालकर उसमे अपना मुख देखकर तेल को अरण्ड के पोधे पर चढ़ाये तथा कटोरी को वही दबा दे । ऐसा ५ शनिवार करे
  • सात शनिवार भैस को चने खिलाये
  • तुलसी का एक पौधा मंदिर में शुक्रवॉर वाले दिन मंदिर में रोपित करे
  • शनिवॉर को लंगर में कोयला दान करे
  • काले चने सवा किलो , काली उड़द सवा किलो, ६० ग्राम कोयला , २५० ग्राम चमड़े का टुकड़ा गहरे नीले कपडे में बांधकर और शनि पीड़ित व्यक्ति पर से उतारकर जल में परवाह कर दे या किसी सुनसान जगह दबा दे
  • सात अनाज , गुड काले चिटो को शनिवार वाले दिन डाले
  • किसी गुरूद्वारे या मदिर में जूते साफ करके पालिस करे
  • शनिवार को दाढ़ी मूंछे न कटवाए
  • शनिवार की शाम को उड़द की दाल के दो बड़े बनाये व उनके ऊपर दही , सिंदूर लगाकर पीपल के पेड़ के नीचे रखे । इस उपाय को ११ शनिवार करे शनिदेव का प्रकोप कम होगा
  • शनिवार को उड़द की दाल की खिचड़ी बनाकर जरुरत मन्दो को खिलाये इससे शनि को साढ़े साती में शनिदेव  का प्रकोप कम होगा

 

राहु की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • बुधवार को शुरू करके काले कुत्ते को मीठी रोटी दे सात दिनों तक
  • शीशे के आठ टुकड़े नदी में प्रवाहित करे
  • जरुरतमंद या भिखारियों को काले या चितकबरे रंग के कम्बल दान में दे
  • संयुक्त परिवार में रहे
  • जौ के कुछ दाने रात को सिरहाने रखे तथा प्रातः पक्षियों को डाले
  • पांच मूली मंदिर में चढ़ाये
  • किसी भी शुभ महूर्त में मसूर की दाल गरीबो में दान कर । ये उपाय ३ बार अवशय करे

 

केतु की अशुभ स्तिथि के उपाय :

  • दूध व् रोटी मिलाकर कुत्ते को खिलाये
  • सप्त धान्यो की रोटी बनाकर पक्षियों को खिलाये
  • प्याज व् लह्शुन बुधवार ले दिन पानी में बहाये
  • पांच कील व् चुने के पांच पत्थर काले सफ़ेद कपडे में बांधकर सर से वार कर नदी में बहाये
  • रंगबिरंगा कम्बल केतु के दिन भिखारी को दान करे
Translate »