Rashi and Nature based on Birth Date

जन्म तारीखे, राशी और चरित्र

मेष (21 मार्च से 20 अप्रैल तक) – यह सौभाग्य की आप सीधे सूर्य के प्रभाव क्षेत्र में है,  सूर्य ग्रहपति है | दूसरो की हुकूमत में न तो आप रह सकते है न आप रह सकेंगे कोई आपको जरा – सा भी विपरीत    कह दे, यह आपको सहन नही हो सकता | आपका भाग्योदय तभी सम्भव है जब आप स्वतंत्र कार्य करे, स्वतंत्र व्यवसाय अपनाये | आपको क्रोध शीघ्र ही आ जायेगा |

वृष (21 अप्रैल से 20 मई तक) – आपका मस्तिष्क हर समय कुछ न कुछ सोचता ही रहता है निष्क्रिय होना तो  अपने  सिखा ही नहीं है, इसलिए आप ऐसे कार्य में विशेष सफलता प्राप्त कर सकते है, जो पेचीदा हो उलझनपूर्ण हो  |

दूसरो के दुःख में भागीदार होना आपका स्वभाव है, मित्रो की संख्या अधिक होगी | ग्रहस्थ जीवन संतोषप्रद कहा जा सकता है यदि पत्नी हमेशा आपके सूक्ष्म विचारो को समझ सके ऐसा तो नहीं कहा जा सकता | फिर भी आपके ग्रहस्थ जीवन में कोई मोटी दरार दिखाई नहीं देगी | बच्चो के मामले में आप सौभाग्यशाली बने रहेंगे |

मिथुन (21 मई से 20 जून तक) –  आपका जीवन जितना उबड़ – खाबड़, संघर्षपूर्ण और परिवर्तनमय रहा है, उतना शायद ही किसी अन्य व्यक्ति का रहा होगा | आपकी प्रगति के बीच निरन्तर बाधाए आती रही है | परन्तु आप इन सभी बाधाओ को पार कर आगे बढने के लिए हमेशा सचेष्ट रहे है इसका मूलभूत कारण है – अदम्य साहस और विपरीत परिस्थितियों से संघर्ष करते रहने की क्षमता | आप बात सभी सुनते है सलाह सभी की लेते है परन्तु करते वही है जो आप करना चाहते है, अपने मन की थाह नहीं लेने देते |

कर्क (21 जून से 20 जुलाई तक) – आपके चरित्र की सर्वाधिक विशेषता यह है कि आप भावुक है | आपको चाहिए कि आप अपने पर काबू रखना सीखे जरा – जरा सी बात पर विचलित होना आपके किए शोभनीय नहीं आपका दाम्पत्य जीवन अधिक मधुर नहीं कहा जा सकता | हां बच्चो की और से आप कुछ निश्चिन्ता पा सकते है | आपके घर का बजट हमेशा असंतुलित रहेगा | मित्रो से आपको उलटे नुकसान है दिखावे में आकर अत्यधिक खर्च न करे आपका स्वभाव म्रदु, सरल, परोपकारी तथा साधुवत होगा, जो शुभ है |

सिहं (21 जुलाई से 21 अगस्त तक) – आपका व्यक्तित्व नेतृतव के लिए है इसलिए  जीवन को सुचारू रूप से चलाने के लिए भी आपको ऐसे ही काम हाथ में लेने चाहिए, जिनमे नेत्रत्व की गुंजाइश हो | यह आपकी विशेषता है कि आप अपरिचित से अपरिचित व्यक्ति को अपना बनाने में सक्षम है | उसे अपना बना लेना या उससे काम निकाल लेना आपको खूबी आता है | दूसरो कि सेवा और सहायता करने में आपको प्रसन्नता होती है |

 कन्या (22 अगस्त से 22 सितम्बर तक) – आपका बचपन प्रबल संघर्षपूर्ण रहेगा, जीवन की सुविधाए उतनी सरलता से प्राप्त नहीं होंगी, जितनी आप जैसे व्यक्तियों को होनी चाहिए परन्तु बाल्यावस्था क अपेक्षा आपकी प्रोढ़ और वर्ध्दाव्स्था अधिक संतोषपूर्ण और सुखद रहेगी | आप जो भी कार्य एक बार अपने हाथ में ले लेते है, उअसमे भूत की तरह जूट जाते है और तब तक विश्राम नहीं करते जब तक आप उस कार्यो को पूरा न कर ले | परन्तु अपने जन्म स्थान पर आपका भाग्योदय सम्भव नहीं है |अनजान धरती और अनजान लोगो के बीच आप अधिक लोकप्रिय हो सकते है परिश्रम तथा कार्य के प्रति अटूट लगन ही आपके साथी है |

 तुला (23 सितम्बर से 22 अक्टूबर तक) – आप मौलिक सूझ – बूझ के धनी है, प्रत्येक कार्य में कुछ न कुछ मौलिकता देना या उस कार्य के इस प्रकार सम्पन्न करना की अन्य दूसरा ऐसा कर ही न सके, यह आपके व्यक्तित्व कि विशेषता है | आप ऐसे ही कार्यो में लगिये, जिनमे दिमागी निपुणता की आवश्यकता हो | शारीरिक श्रम न तो आपके वश की बात है और न उससे भाग्योदय हो सकता है | किसी भी बात को चुपचाप मान लेना आपके वश की बात नहीं | प्रत्येक कार्य या बात को तर्क की कसौटी पर कसकर  ही निर्णय करके आप उसे स्वीकार करते है, भावुकता और तार्किकता का अद्भूत सम्मिश्रण आपके जीवन को उन्नति के शिखर पर पंहुचा देगा इसमें कोई संदेह नहीं |

 वृश्चिक (23 ओक्टूबर से 22 नवम्बर तक) – आप साहसी है कर्मठ है परिस्थितियो की मार के सामने सहज झुकने वाले नहीं है | लेकिन कभी – कभी निराशा आपके मन में घर कर लेती है, यह ठीक नहीं है

उतावलेपन में किसी भी प्रकार का निर्णय लेना आपके लिए हितकर नहीं है | अपनी तीक्ष्ण बुद्धि का सदुपयोग कीजिए, जीवन में सर्वोच्च ल्क्ष्यसिध्दी तो आपको प्राप्त होनी ही है, यह निश्चित है |

धनु (23 नवम्बर से 20 दिसम्बर तक) – भाग्योंनन्ति एव आगे बढने के कई अवसर आपको प्राप्त होंगे और आप आगे बढेंगे भी लेकिन असफलता भी आपके साथ ही चलती रहती है आप समय को पहचानते नहीं और और समय का सदुपयोग ही कर पाते है | और समय बीत जाने के बाद पछताते है, की यदि उस समय यह कर देता तो ठीक रहता | आप अपने अधीनस्थ सम्बन्धियों एव कर्मचारियों पर भी नियंत्रण रखिये | ढील छोड़ देने से कई बार नुकसान उठाया है और उठायेंगे | साथ ही गंभीरता बनाये रखे, बात – बात पर हलकापन प्रदर्शित आपके लिए उचित नही है, अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखे |

मकर (21 दिसम्बर से 19 जनवरी तक) – जीवन में विनोदी स्वभाव बनाये रखना आपकी विशेषता है और इसी विशेषता के कारण अपरिचित से अपरिचित व्यक्ति भी आपके मित्र बन जाते है तथा आप उनसे लाभ उठाने में समर्थ रहते हैं | हर जगह विनोद व्रत्ति उचित नहीं, जीवन में कुछ गंभीरता भी  लाइये | आपके कार्य पर गंभीरता, मौलिकता त्तथा अपने व्यक्तित्व की छाप लगाइये, तभी आप जीवन क्षेत्र में ऊचें उठ सकेंगे |

कुम्भ (20 जनवरी से 18 फरवरी तक) – आपका स्वभाव म्रदु सरल एव सद्गुणों से पूर्ण है, परन्तु आपकी संकोचशीलता इन सब विशेषताओ को नष्ट कर देती है, फलस्वरूप आपके कार्यो का सहज मूल्यांकन नहीं हो पाता आप परिश्रम करते तो है, पर उसकी वाहवाही तथा प्रशंसा अन्य लोगो को मिल जाती है | गुस्सा भी आपको जल्दी आ जाता है, चाहे कोई आपकी बुराई न भी करे |

मीन (19 फरवरी से 20 मार्च तक) – आप मूलतः सह्रदय, सरल एव स्वच्छ मनोव्रत्ति के व्यक्ति है | न तो कूटनीति का आश्रय लेते है और न यह सोचते है कि कोई आपको धोखा देगा | यदि कोई आपके साथ दुर्व्यवहार भी कर बैठता है, तो भी आप उसे क्षमा कर देते है, आप चिकित्सा, शिक्षा, प्रकाशन आदि कार्यो को प्रारम्भ करे | आपमें ईमानदारी है, फलस्वरूप सफलता आपसे दूर नहीं हो सकती, शीघ्र ही आपका परिश्रम रंग लायेगा |

 

 

 

Translate »